प्रातः का विलोम शब्द है – Pratah Ka Vilom Shabd Batao

हिंदी व्याकरण टेस्ट START TEST

प्रातः का विलोम शब्द सांय होता हैं। प्रातःकाल जीवन का सबसे महत्वपूर्ण समय होता है। यह समय न केवल शरीर के लिए बल्कि मानसिक तौर पर भी बहुत महत्वपूर्ण होता है। प्रातःकाल समय को सबसे उत्तम तरीके से उपयोग करने से आप अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं।

Pratah Ka Vilom Shabd

प्रातःकाल जागरण करने से शरीर का तंदरुस्त होता है। जब आप समय पर उठते हैं, तो आपके शरीर में उष्णता और ऊर्जा का स्तर बढ़ता है, जिससे आप दिनभर तनाव से निपटने के लिए तैयार हो जाते हैं।

प्रातः का विलोम शब्द

प्रश्न: प्रातः का विलोम शब्द क्या होगा?

(अ) सुबह

(ब) ऊषाकाल

(स) प्रभात

(द) सांय

उत्तर: (द) सांय

प्रातः का अर्थ क्या है?

“प्रातः” एक हिंदी शब्द है जो “सुबह” का पर्याय होता है। इस शब्द का उपयोग अधिकतर संदर्भों में सवेरे के समय के लिए किया जाता है, जब सूर्य की किरणें पृथ्वी पर गिरने लगती हैं और दिन की शुरुआत होती है।

प्रातः शब्द का वाक्य में प्रयोग

  • मैं प्रातः उठकर योग करता हूँ।
  • प्रातः के समय मुझे सबसे ज्यादा चाय का मजा आता है।
  • वह प्रातः के समय ट्रेन से यात्रा करता है।
  • मेरी माँ प्रातः के समय आलू के परांठे बनाती हैं।
  • प्रातः का समय सबसे उत्तम उत्साह के साथ दिन की शुरुआत करने के लिए होता है।

प्रातः का पर्यायवाची शब्द

प्रातः के कुछ पर्यायवाची शब्द हैं:

  • सुबह
  • ऊषाकाल
  • प्रभात
  • तड़का
  • भोर
  • सवेरा

सारांश

प्रातःकाल समय को उपयोग में लाने से मानसिक तनाव कम होता है और आपके दिन का संचार भी बेहतर होता है। यदि आप समय पर उठते हैं, तो आप अपने दिन को अधिक सक्रिय और उत्साहपूर्ण बना सकते हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *