दुःखद का विलोम शब्द क्या होता है? – Dukhad Ka Vilom Shabd Kya Hai

हिंदी व्याकरण टेस्ट START TEST

अक्सर परीक्षा में हमसे विलोम शब्द पूछे जाते है, और ज्यादातर यह पूछा जाता है कि दुःखद का विलोम शब्द क्या होता है। इसके विलोम शब्द को समझना आसान है लेकिन उससे पहले इसके अर्थ को जानना जरूरी है, क्योंकि हिंदी भाषा में एक ही शब्द के अलग अलग अर्थ निकल कर आते है।

दुःखद का विलोम शब्द क्या होता है

इस लेख के माध्यम से हम आपको दुःखद के विलोम शब्द के बारे में बताएंगे और उससे पहले यह भी जानेंगे कि दुःखद का अर्थ क्या होता है और परीक्षा में जब आपसे इसका विलोम शब्द पूछा जाए तो आपको किस तरह से लिखना है।

दुःखद का विलोम शब्द क्या होता है?

सरल और आसान भाषा में समझे तो दुःखद का विलोम शब्द सुखद होता है। जब कोई दुःखद महसूस करता है तो वो रोना शुरू कर देता है और अपनी भावना को दर्शाता है।

इसके और अन्य विलोम शब्द की बात करे, या यह कहें कि सुखद शब्द के अन्य अर्थ भी हम दुःखद के विलोम शब्द के रूप में लिख सकते है जो निम्न हैं-

  • आनंददायी
  • सुखकर
  • आरामदेह,
  • ख़ुशगवार
  • रुचिकर
  • प्रिय

दुःखद का अर्थ क्या होता हैं?

दुखद का अर्थ होता हैं दुःख या कष्ट देने वाला, या हमारे मन को ठेस पहुँचाने वाला।

दुःखद के पर्यायवाची शब्द जैसे:-

  • पीड़ित
  •  व्याकुल
  • अशांत
  • अप्रसन्न
  •  बेचैन
  •  उदास
  •  दीन
  •  बेचारा
  •  उदास
  •  चिंतित इत्यादि।

चलिए इसे हम वाक्य के रूप में समझते है-

  • यह एक दुखद सत्य है जिसको मैं आज भी ढोता रहा हूँ।
  • यह हमारे जीवन की दुखद हार थी।
  • दुःखद जीवन होने के बावजूद मैं हँस रहा हूँ।
  • हर किसी के जीवन में अलग अलग दुख होता हैं।
  • जो व्यक्ति पाप करेगा, वह दुःख में डूबेगा।

FAQs

उपस्थित का विलोम शब्द क्या होता है?

उपस्थित का विलोम शब्द अनुपस्थित होता है।

दुख का पर्यायवाची शब्द क्या होता है?

दुख का पर्यायवाची शब्द पीड़ा, संताप, संकट होता है।

दुख का विशेषण शब्द क्या होगा?

दुख का विशेषण शब्द दुःखी होगा।

सारांश

अब आप समझ गए होंगे कि दुःखद का विलोम शब्द हिंदी में क्या होता है और दुःखद का अर्थ भी जान गए होंगे। जिससे आपको इसका विलोम शब्द को याद रखने में कोई कठिनाई नहीं होगी।

अगर आपको इससे संबंधित कोई भी अन्य जानकारी चाहिए या आपको इसमे कुछ समझ नही आया हो तो आप हमसे कमेंट सेक्शन के माध्यम से पूछ सकते है। अगर आपको यह अर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने मित्रो और सहपाठियों के साथ सांझा करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *